असावधानी से कोरोना की तीसरी लहर को मिलेगा आमंत्रण : शिवराज

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण को लेकर निश्चिंत न हों, क्योंकि असावधानी से तीसरी लहर को आमंत्रण देंगे।

चौहान ने कहा कि केवल हमारे देश में, अपितु दुनिया के कई देशों में कोविड के प्रकरण बढ़ना चिंता का विषय है। ब्रिटेन में तीन महीने के लॉकडाउन के बाद 55 हजार केस आए हैं। दुनिया के अन्य देशों में भी कोरोना के प्रकरण तेजी से बढ़ रहे हैं। देश में भी कई जिलों में पॉजिटिविटी दर दस प्रतिशत से कम नहीं हुई है। अत: यह स्पष्ट है कि वायरस अभी मौजूद है। दक्षिण और उत्तरपूर्व के राज्यों में पॉजिटिव प्रकरण तेजी से आ रहे हैं। कई जगह प्रकरण प्रतिदिन बढ़ रहे हैं। इसलिए प्रदेशवासियों से मेरी अपील है कि कोरोना से निश्चिंत न हों।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि शनिवार को प्रदेश में 78 हजार टेस्ट किए गए, जिनमें से 18 पॉजिटिव आए। परसों जो टेस्ट किए गए, उसमें 11 पाजिटिव आए थे। अत: यह स्पष्ट है कि प्रदेश में वायरस है। पॉजिटिव लगातार आ रहे हैं। अगर हम असावधान रहे तो यह तीसरी लहर को निमंत्रण देने के समान होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। प्रदेश में अधिकतम टेस्ट करने, पॉजिटिव आए व्यक्तियों की कांटेक्ट ट्रेसिंग कर उन्हें आइसोलेशन में रखने का कार्य जारी है। प्रदेश में टीकाकरण का अभियान भी लगातार चल रहा है। कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए अस्पतालों में आवश्यक व्यवस्था स्थापित करने के लिए भी राज्य सरकार सक्रिय है।

चौहान ने कहा कि तीसरी लहर से बचाव का सबसे प्रभावी उपाय कोरोना अनुकूल व्यवहार का पालन करना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विश्व स्वास्थ्य संगठन और स्वास्थ्य विभाग भी बार-बार कोरोना अनुकूल व्यवहार के पालन का आग्रह कर रहा है। प्रदेशवासियों से इसके प्रति गंभीर रहने की अपील है।

इसे शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *