“अनटोल्ड डिजी-स्टोरी: लाइफ़ इन लॉकडाउन…” कोरोना महामारी के पर्दे के पीछे की कहानी !

कोरोना वायरस के कारण पूरे विश्व में लॉकडाउन और उसके असर पर केंद्रित आठ देशों के…

बिहार: पिछले 3 साल में सिर्फ़ 2136 परिवारों को ही मिला मनरेगा के तहत 100 दिन का काम !

केंद्र से लेकर स्थानीय मालिक वर्ग भी नहीं चाहता कि गांवों में मजदूरी बढ़े और मज़दूर…

बिहार विधानसभा चुनाव: “बाहरी” बने रहने पर मजबूर क्यों है एक ख़ास समुदाय ?

बिहार का एक ऐसा वंचित समुदाय – मुसहर, जिसके ज़्यादातर लोग भयावह ग़रीबी में रहने को…

बलि के बकरे और बेचारी पवित्र गाय

कोविड काल में मीडिया, पुलिस और तबलीगी जमात” सरकार द्वारा किए जा रहे तमाम प्रयासों के…

अगले एक साल में 15 करोड़ लोगों पर पड़ेगी ग़रीबी की तगड़ी मार- विश्व बैंक

विश्व बैंक के मुताबिक, साल 2021 तक कोरोना के कारण दुनिया में कम से कम 15…

बिहार चुनाव : एपीएमसी हटने से बिहार के किसान हुए और ग़रीब !

इस साल बिहार में मक्के की फसल हर जगह 900 से 1,100 रुपये क्विंटल की दर…

काशी मथुराः मंदिर की राजनीति की वापसी

दिनदहाड़े बाबरी मस्जिद ध्वस्त किए जाते समय एक नारा बार-बार लगाया जा रहा था “यह तो…

मी-लॉर्ड देश के ग़रीब कहां जाएं यह भी बता दो!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में मध्य प्रदेश के रेहड़ी-पटरी वालों से वीडियो कांफ्रेंस के…

रघुवंश बाबू का जाना राजनीति से एक प्रतीक के जाने की तरह है”

राजनीति में आने से पहले रघुवंश बाबू बिहार के सीतामढ़ी के किसी कॉलेज में प्रोफ़ेसर थे।…

युवा बेरोजगार का सिर्फ बचत ही सहारा!

सेंटर फ़ॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनमी के एक सर्वे के अनुसार तालाबंदी से अबतक 2 करोड़ लोगों…